शिलाजीत के 32 फायदे, गुण, नुकसान और सेवन की विधि

पुरुषों के लिए शिलाजीत के फायदे, नुकसान

शिलाजीत के फायदे, नुकसान और सेवन विधि की जानकारी : शिलाजीत(shilajit) हिमालय और अन्य बड़े बड़े पहाड़ो से निकलने वाला काले-भूरे रंग पदार्थ है| पहाड़ो से निकलने के कारण इसका शाब्दिक अर्थ है पहाड़ों को जीतने वाला| अंग्रेजी भाषा में शिलाजीत को एस्फाल्ट कहते है| शिलाजीत के गुण असंख्य है| अपने गुणों के कारण है, अनेक प्रकार की बीमारियों के उपचार में सहायक है| शिलाजीत का उपयोग विशेष रूप से यौन कमजोरी और अनेक प्रकार की यौन समस्याओं के उपचार में किया जाता है|

Shilajit in Hindi

गर्मियों के मौसम में जब सूर्य की किरणें हिमालय या अन्य पहाड़ो की खड़ी चट्टानों पर पड़ती है, तो चट्टानें बहुत गर्म हो जाती है| चट्टानें जब बहुत अधिक गर्म हो जाती है, तो चट्टानों की शिलाओं से एक पदार्थ निकलता है, इस पदार्थ को शिलाजीत कहते है| चट्टानों से निकलने के कारण शिलाजीत को पत्थरों का मद भी कहते है| सुश्रुत संहिता में छह प्रकार के और चरक संहिता में चार प्रकार के शिलाजीत के बारे में बताया गया है|

आचार्य चरक के अनुसार शिलाजीत के ताम्र ,सुवर्ण, लौह और रजत चार प्रकार होते है| लौह शिलाजीत सबसे अधिक उपयोग में आने वाला शिलाजीत है| इसका रंग काला होता है| शिलाजीत को गौ मूत्र और कपूर दो प्रकार की गंध वाला माना गया है| गुणों के आधार पर देखा जाएँ, तो गौ मूत्र की गंध वाला शिलाजीत अधिक उपयोगी होता है| मिनरल की अधिक मात्रा होने के कारण शिलाजीत जननांगों, किडनी और मूत्र प्रणाली के लिए बहुत उपयोगी है|

शिलाजीत 1000 और 5000 मीटर की ऊंचाई पर तिब्बत, सोवियत संघ, चीन, भूटान, नेपाल और पाकिस्तान आदि के पहाड़ो पर भी पाया जाता है| शिलाजीत को आयुर्वेद में रसायन का दर्जा मिलता है| शिलाजीत का इस्तेमाल प्राचीन काल से अनेक प्रकार की बीमारियों के इलाज में किया जा रहा है| शिलाजीत के इस्तेमाल से पथरी, शुगर, पागलपन, पीलिया, अस्थमा, मिर्गी, नपंसुकता, स्वप्नदोष और धातु रोग जैसी खतरनाक स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में उपयोगी है| आयुर्वेद के अनुसार शिलाजीत के इस्तेमाल से हर प्रकार के रोग का इलाज संभव है|

शिलाजीत क्या है (what is Shilajit in Hindi)

गर्मियों के मौसम में पहाड़ो की चट्टानें बहुत अधिक गर्म होने के कारण चट्टानों से एक पदार्थ अर्थात मद निकलता है| चट्टानों से निकलने वाले इस पदार्थ को शिलाजीत कहते है| भारत में सबसे अधिक शिलाजीत गंगोत्री के आस पास मौजूद पहाड़ो की शिलाओं से मिलता है| इसके अलावा शिलाजीत हिमालय, नेपाल, अल्ताई और मध्य एशिया के पहाड़ो से मिलता है|

शुद्ध शिलाजीत क्या है (What is Pure Shilajit in Hindi)

हमने आपको ऊपर बताया कि शिलाजीत चट्टानों से निकलने वाला पदार्थ है| जब यह चट्टानों से निकलता है, तब इसमें अनेक प्रकार की अशुद्धियाँ मौजूद होती है| शिलाजीत का सेवन लाभकारी होता है, लेकिन अगर अशुद्ध शिलाजीत का सेवन किया जाएँ, तो यह शरीर के लिए हर प्रकार से हानिकारक होता है| ऐसे में शिलाजीत का सेवन करने से पहले इसकी अशुद्धियाँ को पूरी तरह दूर करने के बाद इसकी शुद्धता की जाँच करनी चाहिए और फिर इसका सेवन करना चाहिए|

शिलाजीत को शुद्ध करने के लिए इसे गोमूत्र, अम्ल और यवक्षार से धोया जाता है| इसके अलावा शिलाजीत को शुद्ध करने का एक अन्य तरीका भी है| इसमें एक लोहे के बर्तन में दूध, भांगरे का रस और त्रिफला का काढ़ा भरकर रखा जाता है| अब इस बर्तन में शिलाजीत डालकर इस बर्तन को धुप में रख दिया जाता है| इससे शिलाजीत में मौजूद अशुद्धियाँ नीचे बैठ जाती है और शुद्ध शिलाजीत ऊपर आ जाता है|

असली शिलाजीत की पहचान (How to Check Purity of Shilajit in Hindi)

शिलाजीत हजारों सालो में तैयार होकर चट्टानों के माध्यम से निकलने वाली एक प्राकृतिक औषधि है| शिलाजीत के असंख्य गुणों के कारण इसकी मांग बहुत अधिक है, लेकिन इसकी मात्रा बहुत कम है| शिलाजीत की मात्रा कम होने के कारण अधिकतर लोग शिलाजीत में मिलावट करके इसे मार्किट में बेचते है| ऐसे में अगर आप मिलावट रहित शिलाजीत चाहते है, तो आपको शुद्ध शिलाजीत की पहचान करनी आनी चाहियें| असली शिलाजीत की पहचान करने के लिए नीचे दिए गए टिप्स अपनाएं|

असली शिलाजीत की पहचान (How to Check Purity of Shilajit in Hindi)

  • असली शिलाजीत का स्वाद कड़वा और कटु होता है|
  • असली शिलाजीत में गो मूत्र की तीव्र गंध आती है |
  • अगर शिलाजीत असली है, तो अंगारे पर रखते ही यह खड़ा हो जायेगा|
  • असली शिलाजीत को अगर अंगारे पर रखा जाएँ, तो इससे धुआँ नहीं निकलता|
  • असली शिलाजीत चिकना और वजन में बहुत हल्का होता है|
  • असली शिलाजीत का रंग काला होता है और यह पतले गोंद की तरह होता है|

शिलाजीत के गुण –

1. शिलाजीत का सेवन औषधि की तरह करने पर, इससे शरीर में त्रिदोष संतुलित होता है|

2. शिलाजीत का अधिक सेवन करने से शरीर में पित्त बढ़ने लगता है|

3. शिलाजीत का स्वाद कड़वा, कसैला और चरपरा होता है|

4. शुगर के मरीजों के लिए शिलाजीत दवा की तरह काम करता है|

5. शिलाजीत के सेवन से वात, पित्त और कफ में संतुलन बनता है|

6. शिलाजीत पचने में भारी होता है और इसकी तासीर गर्म होती है|

7. शिलाजीत पेशाब लाने वाला रसायन है|

8. पुरुषों के लिए शिलाजीत का सेवन बहुत लाभदायक है|

शिलाजीत के फायदे (Shilajit Benefits in Hindi)

शिलाजीत के गुण दिमाग के लिए – तेज दिमाग हर किसी की चाहत होती है| अगर आप अपनी इस चाहत को पूरा करना चाहते है, तो शिलाजीत का सेवन करे| शिलाजीत के सेवन से दिमाग को जरुरी पोषण मिलता है, जिसके कारण स्मरण-शक्ति बढ़ती है| इसके सेवन से एकाग्रता बढ़ती है और मानसिक तनाव दूर होता है|

शिलाजीत उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर को कण्ट्रोल करे – उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर के कारण क्त प्रवाह में अवरोध पैदा होता है, जिसके कारण दिल का दौरा पड़ने का खतरा बढ़ जाता है| शिलाजीत के सेवन से उच्च कोलेस्ट्रॉल लेवल कण्ट्रोल में रहता है, जिससे इस रोग से छुटकारा मिलता है|

शुगर में शिलाजीत के फायदे – शुगर से ग्रसित रोगियों के लिए शिलाजीत अमृत के समान है| शिलाजीत रक्त शर्करा के स्तर को कण्ट्रोल में रखता है और शुगर के लक्षणों को कम करता है| शिलाजीत को शुगर विनाशक भी माना जाता है|

मूत्र रोग में शिलाजीत के लाभ – शिलाजीत के सेवन से सभी प्रकार के मूत्र विकारो को दूर किया जा सकता है| शिलाजीत के सेवन से मूत्र मार्ग में होने वाली जलन दूर होती है| शिलाजीत मूत्राशय और गुर्दो के स्वास्थ्य को बनाये रखता है|

शिलाजीत से करे एनीमिया का इलाज – शरीर में खून की कमी होने पर एनीमिया रोग हो जाता है| शरीर में खून की कमी के कारण शारीरिक थकान होने लगती है, जिसके कारण साँस लेने में प्रॉब्लम होने लगती है| शिलाजीत के सेवन से शरीर में खून का निर्माण होता है, जिसके कारण शारीरिक कमजोरी और एनीमिया की समस्या दूर होती है|

शिलाजीत यौन समस्याओं को दूर करे – यौन समस्याओं को दूर करने के लिए शिलाजीत टॉनिक का काम करता है| मासिक धर्म चक्र से जुडी सभी प्रॉब्लम शिलाजीत के सेवन से दूर हो जाती है| जिन महिलाओं को बांझपन की समस्या है, उन्हें इसके सेवन से गर्भ धारण करने में मदद मिलती है| शिलाजीत के सेवन से पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या तेजी से बढ़ती है|

शिलाजीत उच्च रक्तचाप में उपयोगी – उच्च रक्तचाप के कारण आज असंख्य लोग मौत के शिकार हो रहे है| शिलाजीत उच्च रक्तचाप के इलाज में उपयोगी है| इसके साथ ही शिलाजीत के सेवन से सभी प्रकार के हृदय रोग भी दूर हो जाते है|

गठिया में उपयोगी शिलाजीत – गठिया होने के कारण जोड़ो में सूजन आ जाती है और दर्द होने लगता है| शिलाजीत के सेवन से गठिया रोग में आराम मिलता है और यह गठिया के सभी लक्षणों जैसे दर्द, सूजन और अकड़न को कम करने में सहायक है|

शिलाजीत यौन शक्ति बढ़ाये – शिलाजीत का उपयोग प्राचीन काल से यौन शक्ति को बढ़ाने के लिए किया जा रहा है| शिलाजीत मृत कोशिकाओं को पुनर्जीवित करता है| जिसके कारण शारीरिक कमजोरी दूर होती है और बुढ़ापे के लक्षण कम हो जाते है| जिससे चेहरे पर हमेशा ग्लो रहता है|

शिलाजीत के औषधीय लाभ (Medicinal Benefits of Shilajit in Hindi)

1. शिलाजीत का सेवन इलायची और पीपली के साथ करने से मूत्रकृच्छ और मूत्रघात में आराम मिलता है|

2. गर्म पानी के साथ 500 mg शिलाजीत लेने से मोटापा कम होता है|

3. शिलाजीत को शहद और त्रिफला पाउडर के साथ चाटने पर मधुमेह रोग में आराम मिलता है|

4. सुबह खाली पेट दूध के साथ एक ग्राम शिलाजीत का सेवन करने से प्रमेह रोग में आराम मिलता है|

शिलाजीत के नुकसान (Shilajit Ke Nuksan in Hindi)

शिलाजीत प्रकर्ति की कोख़ से जन्म लेने वाली एक गुणकारी औषधि है, लेकिन अगर इसका इस्तेमाल सही तरीके और सही मात्रा में ना किए जाएँ, तो इसके सेवन अनेक प्रकार की परेशानियां होने लगती है| आइयें जाने शिलाजीत के अधिक सेवन से शरीर को क्या क्या नुकसान हो सकते है|

1. लौह की अधिक मात्रा होने के कारण शिलाजीत के सेवन से लौह संबंधित बीमारियां हो सकती है|

2. अधिक मात्रा में शिलाजीत का सेवन करने से एलर्जी होने लगती है|

3. गर्म तासीर के कारण इसके सेवन से पैरो में जलन होने लगती है|

4. शिलाजीत की तासीर गर्म होने के कारण इसके सेवन से शरीर में गर्मी बढ़ जाती है|

5. शिलाजीत के अधिक सेवन से पेशाब में कमी आ जाती है या पेशाब की मात्रा बढ़ जाती है|

6. नकली शिलाजीत का सेवन करने से शरीर को अनेक प्रकार की समस्याएं होने लगती है|

7. शिलाजीत से अगर आपको कोई भी परेशानी हो रही है, तो तुरंत इसका सेवन बंद कर दे|

इस पोस्ट में हमने आपको शिलाजीत के फायदे, नुकसान और इसका सेवन किस प्रकार करे इसके बारे में बताया| शिलाजीत के उपयोग से जुडी हमारी ये पोस्ट आपको कैसी लगी, हमें कमेंट करके बताएं| शिलाजीत का लाभ आपने किस प्रकार उठाया और इससे आपको कितना फायदा हुआ, इसके बारे में भी हमें जरूर बताएं|

Disclaimer:- All content is good for health but you should take advice from Doctor before using them. We are not responsible for any harm.

ये भी पढ़े –

गिलोय के फायदे, औषधीय गुण और 10 बड़े नुकसान
वजन बढ़ाने के लिए क्या खाये
मोरिंगा के फायदे और नुकसान Moringa Benefits in Hindi
Drumstick Vegetable Benefits in Hindi सहजन की सब्जी के फायदे
Best Diet Chart for Runners in Hindi धावकों के लिए आहार चार्ट
Morning Running Benefits in Hindi दौड़ने के 20 फायदे
Beginner Best Running Tips in Hindi तेज दौड़ने के टिप्स

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 − seven =