पीलिया में क्या खाएं क्या नहीं Jaundice Diet Chart in Hindi [Food List]

Diet Chart for Jaundice in Hindi

पीलिया में क्या खाएं (Diet Chart for Jaundice Patients in Hindi) : इस पोस्ट में हम आपको पीलिया में क्या खाये और पीलिया में परहेज किन किन चीजों का करना चाहिए, इसके बारे में जानकारी देंगे| किसी भी बीमारी के इलाज के लिए सही इलाज के साथ सही आहार का लेना भी बहुत जरुरी है|

Jaundice Diet Chart in Hindi

जब हमारे ब्लड में बिलिरुबिन (Bilirubin) की मात्रा जरूरत से अधिक हो जाती है, तब हमारी आंखे, त्वचा, नाख़ून और पेशाब का रंग पीला होने लगता है| इसे ही पीलिया बीमारी के नाम से जाना जाता है| अधिकतर पीलिया गन्दा पानी पीने और बासी भोजन खाने से होता है| पीलिया की बीमारी जिगर की खराबी के कारण भी हो सकती है| जिगर की खराबी के कारण जिगर का पित्त आंतो में पहुंचने की वजाय सीधे खून में पंहुच जाता है| ऐसा होने से शरीर और शरीर के सभी हिस्से पीले पड़ने लगते है|

एक शोध के अनुसार सही और पोषक तत्वों से युक्त आहार लेने से कोई भी बीमारी जल्दी ठीक हो जाती है| ऐसे में किसी भी बीमारी के समय कौन सी चीजे खानी चाहिए, और किन चीजों का परहेज करना चाहिए, इसके बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए| आज हम आपको पीलिया से जुड़े आहार के बारे में बतायेगे|

हम आपको बतायेगे कि पीलिया के मरीज को किन चीजों का सेवन करना चाहिए, और किन चीजों से दुरी बनाये रखनी चाहिए| तो चलिए पोस्ट को आगे बढ़ाये और जाने पीलिया में क्या खाये और क्या ना खाये|

पीलिया में क्या खाएं इन हिंदी (Jaundice Diet Chart in Hindi)

दही (Curd) : दही पेट को प्रोबायोटिक देती है, और यह आसानी से पच भी जाती है| दही में मौजूद बैक्‍टीरिया पीलिया से लड़ने में सहायक होते है| पीलिया के मरीज को रोजाना दो से तीन कटोरी ताजी दही खानी चाहिए|

आंवला (Gooseberry) : आंवले में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जिसके कारण ये लिवर को मजबूत बनाने में सहायक है| पीलिया के मरीज का लिवर बहुत कमजोर हो जाता है, इसीलिए पीलिया के मरीज को भरपूर मात्रा में आंवले का सेवन करना चाहिए|

केला (Banana) : पीलिया में पके केले का सेवन करने से भी लाभ होता है| केला आसानी से गांव या शहर सब जगह मिल भी जाता है| पीलिया होने पर केले को मैश करके उसमे शहद मिलाकर दिन में दो बार खाये| इससे पीलिया में लाभ होगा|

बेल (Wood Apple) : बेल की पत्तियां भी पीलिया के उपचार में उपयोगी है| बेल की पत्तियों को पीसकर पेस्ट तैयार कर ले| अब इस पेस्ट को पानी में घोलकर रोजाना पियें| पीलिया के मरीज के लिए बेल की पत्ती से बना ये पानी बहुत उपयोगी है|

छाछ (Buttermilk) : छाछ हर घर में और मार्किट में आसानी से मिल जाता है| पुराने ज़माने से पीलिया के दौरान छाछ पीने का चलन है| छाछ को पीलिया का सबसे अच्छा आहार माना जाता है| रोजाना दो से तीन गिलास छाज में भुना जीरा पाउडर और काली मिर्च पाउडर डालकर पियें| रोजाना ऐसा करने से पीलिया जल्दी ठीक हो जाता है|

कैमोमाइल चाय (Chamomile Tea) : पीलिया में कैमोमाइल का सेवन बहुत लाभकारी होता है| पीलिया के मरीज को कैमोमाइल की पत्तियों की चाय बनाकर रोजाना पीनी चाहिए| रोजाना कैमोमाइल की चाय पीने से पीलिया जल्दी ठीक हो जाता है| इसके साथ ही कैमोमाइल हेल्थ के लिए भी अच्छा होता है, इसीलिए इसकी पत्तियों से बनी एक कप चाय रोजाना पी सकते है|

गाजर (Carrot) : गाजर का जूस पीलिया के मरीज के लिए उपयोगी है| गाजर का जूस लिवर में होने वाले संक्रमण को दूर करके लिवर को मजबूत बनाता है| पीलिया के मरीज को रोजाना एक से दो गिलास ताज़ी गाजर का जूस पीना चाहिए|

पपीता (Papaya) : पीलिया होने पर आप पपीता खा सकते है| पका पपीता ही नहीं पीलिया होने पर आप कच्चा पपीता और पपीते के पत्तो का रस भी पी सकते है| पपीते के पत्तो को पीसकर पेस्ट तैयार कर ले| अब इस पेस्ट में स्वादानुसार शहद मिलाकर सुबह शाम चाटे| यह घरेलू नुस्खा आजमाने से पीलिया भी ठीक हो जायेगा|

गन्‍ने का रस (Sugarcane Juice) : गन्ने का रस पीलिया के इलाज में बहुत उपयोगी है| इसके सेवन से पीलिया जल्दी ठीक हो जाता है| गन्ने का रस पीने से लिवर मजबूत होता है, और पाचन किर्या दुरुस्त होती है| ऐसे में पीलिया के मरीज को रोजाना गन्ने का रस पीना चाहिए| ध्यान रहे गन्ने का रस ताजा होना चाहिए|

टमाटर (Tomatoes) : टमाटर और टमाटर का जूस पीलिया में अच्छा आहार माना जाता है| पीलिया होने पर टमाटर के जूस में काली मिर्च पाउडर और स्वादानुसार नमक डालकर पिए| टमाटर की सलाद खाने से भी फायदा होता है|

मूली (Radish) : ताज़ी मूली के पत्तो का रस निकालकर लगभग आधा लीटर की मात्रा में रोजाना पीलिया के मरीज को पिलाये| मूली के पत्तो का रस पीना पीलिया में लाभकारी है|

चुकंदर (Sugar Beets) : चुकंदर पीलिया के संक्रमण को बढ़ने से रोकता है, इस प्रकार चुकंदर का सेवन पीलिया के रोगी के लिए लाभकारी है| पीलिया ग्रसित लोगो को रोजाना एक से दो चुकंदर चबाकर खानी चाहिए|

धनिया बीज (coriander Seeds) : पीलिया के मरीज को धनिये के बीजो का सेवन भी करना चाहिए| धनिये के बीजो को खाने से पहले उन्हें 6 से 7 घंटे के लिए पानी में भिगोकर छोड़ दे| जब ये बीज फूल जाये, तब इन बीजो को पानी से निकालकर अलग कर ले और इस पानी को पियें| कुछ देर बाद धनिये के बीज को चबाकर खाये| धनिये के बीज के पानी से रोटी का आता भी गूँथ सकती है|

पीलिया में परहेज (Avoid Food in Jaundice in Hindi)

1. पीलिया के मरीज के लिए तली भुनी, मिर्च मसाले वाली चीजे जहर के समान है, इसीलिए ऐसे समय में गलती से भी ऐसी चीजे ना खाये|

2. जिन चीजों में वसा होती है, उन चीजों का पीलिया के दौरान परहेज करना चाहिए| वसायुक्त चीजों से पीलिया ठीक होने के कुछ दिन बाद तक भी दुरी बनाकर रखनी चाहिए|

3. पीलिया के मरीज के लिए शराब का सेवन जानलेवा हो सकता है, इसीलिए ऐसे समय में शराब गलती से भी ना पियें|

4. पीलिया के मरीज को नॉन वेज जैसे मांस, मछली और अंडे का सेवन नहीं करना चाहिए|

5. पीलिया के रोगी ठीक होने के कुछ दिन बाद भी मक्खन जैसी चिकनाई युक्त चीजों का सेवन करने से बचे|

6. ऐसे समय में मैदे और बेसन से बनी चीजे नहीं खानी चाहिए|

7. पीलिया के मरीज को चाय, कॉफी, कोल्डड्रिंक से भी दुरी बनाये रखनी चाहिए|

8. पीलिया के मरीज को बासी भोजन नहीं करना चाहिए|

9. ऐसे समय में दूषित पानी गलती से भी ना पियें| पानी को उबालकर ठंडा करके पियें|

10. पीलिया होने पर अचार, चटनी, मुरब्बा जैसी चीजों से परहेज करे|

11. दूध से बनी चीजों में केवल छाज और दही का सेवन करे| दही में भी मलाई नहीं होनी चाहिए|

12. ऐसे समय में नशीली चीजों से गुठका, पान, मशाला का सेवन ना करे|

13. बाहर के डिब्बाबदं खाने से फ़ास्ट फ़ूड से परहेज करे|

इस पोस्ट में हमने आपको पीलिया में क्या खाएं और पीलिया में किन किन चीजों का परहेज रखे, इसके बारे में बताया| “Jaundice Diet in Hindi” से जुड़ा हमारा आज का आर्टिकल आपको कैसा लगा, हमें कमेंट करके बताये| कमेंट करने के लिए पोस्ट के निचे बने कमेंट बॉक्स में जाये| अगर आप पीलिया में आहार से जुड़ा कोई भी सवाल हमसे पूछना चाहते है, तो अपना सवाल कमेंट के माध्यम से हमसे पूछ सकते है|

Disclaimer:- All content is good for health but you should take advice from Doctor before using them. We are not responsible for any harm.

ये भी पढ़े –

पीलिया का इलाज
पीलिया के लक्षण
बच्चो में पीलिया का इलाज
पथरी मे परहेज
अलसी के फायदे
नारियल पानी के फायदे
पथरी का इलाज

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − two =