Heart Patient Food & Diet Chart in Hindi | हार्ट पेशेंट को क्या खाना चाहिए

Food Chart for Heart Patient Diet in Hindi

Heart Attack Patient Ke Liye Diet Chart : दिल की बीमारी आजकल बढ़ती चली जा रही है| महिलाओं और युवा वर्ग के साथ साथ बच्चे भी इस खतरनाक बीमारी का शिकार हो रहे है| वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के अनुसार अगर दिल की बीमारियों पर ध्यान ना दिया गया, तो 2020 तक पुरे देश में 10 करोड़ से अधिक व्यक्ति दिल की बीमारियों के शिकार हो जायेगे| ये संख्या बहुत अधिक है|

Heart Patient Diet in Hindi

 

हृदय रोगी (Heart Patient) सबसे बढ़ी मुश्लिक ये रहती है, कि वे किस प्रकार का भोजन करे| ऐसा इसीलिए क्योंकि हृदय रोगी सामान्य लोगो की तरह डाइट नहीं ले सकते| ऐसा इसीलिए क्योंकि हृदय रोगी के दिल की कार्यक्षमता सामान्य लोगो के दिल की कार्यक्षमता से बहुत कम होती है और उन्हें अपनी डाइट लेते समय अनेक प्रकार के चिकित्सा कारको को भी ध्यान में रखना पड़ता है|

हृदय रोगियों को भाग दौड़ भरा काम नहीं करना चाहिए और ना ही अधिक सोचना चाहिए और तनाव में भी नहीं रहना चाहिए| अगर आप हार्ट पेशेंट है, तो आपको अपना एक अच्छा डाइट चार्ट बनाना चाहिए और इस डाइट चार्ट के अनुसार ही रोजाना भोजन करना चाहिए| आइये जाने हृदय रोगियों के लिए डाइट चार्ट / Heart Patient Diet in Hindi के बारे में|

हार्ट पेशेंट को क्या खाना चाहिए (Heart Attack Patient Diet Chart in Hindi)

हरी पत्‍तेदार सब्‍जियां (Green Leafy Vegetables) – हार्ट पेशेंट को अपने डाइट चार्ट में ताज़ी हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल करना चाहिए| हरी सब्जियों में फाइबर, पौटेशियम, मैगनीशियम, कैल्‍शियम और फॉलिक एसिड जैसे खनिज तत्व पाए जाते है, जो हार्ट पेशेंट के लिए बहुत लाभकारी होते है| हार्ट प्रॉब्लम के रिस्क को कम करने के लिए पालक, मेथी, पत्ता गोभी, मूली के पत्ते और राई आदि का सेवन करे|

बादाम (Almond) – बादाम का सेवन हार्ट पेशेंट के लिए बहुत उपयोगी है| बादाम में मोनोसैच्‍युरेटेट फैट, मैगनीशियम, ज़िंक, मिनरल, आयरन और विटामिन बी 17 और विटामिन ई जैसे अनेक प्रकार के खनिज तत्व पाये जाते है, जो हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी होते है| बादाम का सेवन शरीर को ब्‍लड क्‍लॉट होने से बचाता और शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल के लेवल को कण्ट्रोल करता है| बादाम को अपनी डाइट में शामिल करना ना भूले|

मछली (Fish) – अगर आप नॉनवेज खाते है, तो मछली का सेवन आपके दिल के लिए बहुत उपयोगी है| मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है और यह फैटी एसिड ट्राइग्लिसराइड और एलडीएल स्तर को कम करने में सहायक है| एक शोध के अनुसार मछली का सेवन करने से हार्ट प्रॉब्लम होने का खतरा कम हो जाता है| नॉनवेज खाने वाले लोग अपनी डाइट में मछली को जरूर शामिल करे|

टमाटर (Tomatoes) – आसानी से और सस्ती कीमत पर मिलने वाला टमाटर हार्ट पेशेंट के लिए बहुत उपयोगी है| एक शोध के अनुसार रोजाना टमाटर खाने से हार्ट प्रॉब्लम का खतरा कम हो जाता है| टमाटर में मौजूद विटामिन ब्लड को प्‍यूरीफाइ करने का काम करते है, इसीलिए अपने भोजन में टमाटर का रोजाना इस्तेमाल करे| दाल सब्जी में टमाटर डाले और टमाटर को सलाद के रूप में कच्चा खाये|

साबुत अनाज (Whole Grains) – साबुत अनाज का सेवन हार्ट पेशेंट के लिए पीसे अनाज से अधिक लाभदायक होता है| साबुत अनाज में फाइबर और विटामिन अधिक मात्रा में पाया जाता है| इसके अलावा साबुत अनाज में विटामिन ई, आयरन, मैगनीशियम और एंटी ऑक्‍सीडेंट जैसे खनिज तत्व पाये जाते है| साबुत अनाज के सेवन से ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहता है| मक्‍का, ब्राउन राइज, राजमा, गेहूं और दाल अच्छे साबुत अनाज की श्रेणी में आते है|

ओट्स (Oats) – ओट्स में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है और यह फाइबर घुलनशील होता है| घुलनशील फाइबर कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करने में सहायक होते है, ग्लूकोज के अवशोषण को कम करते है और आंत के ट्रांजिट टाइम को बढ़ाते है| ओट्स में बीटा ग्लूकन भी पाया जाता है, जो फैट कम करने में सहायक होता है|

ब्लूबेरी (Blueberry) – हार्ट पेशेंट को अपनी डाइट में ब्लूबेरी को शामिल करना चाहिए, क्योंकि हार्ट पेशेंट के लिए इसका सेवन लाभकारी है| ब्लूबेरी में मौजूद एंथोसायनिन एक असरकारी एंटी-ऑक्सीडेंट का काम करते है और साथ ही ये शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी सहायक है|

हार्ट पेशेंट के लिए ओट्स सबसे अच्छा नाश्ता है| ओट्स को हेल्दी ब्रेकफास्ट की श्रेणी में रखा गया है| ओट्स हार्ट के लिए अच्छा होता है और इससे लम्बे समय तक पेट भरा रहता है| ओट्स को दलिए के रूप में फलो और ड्राई फ्रूट्स के साथ ले सकते है|

सोया प्रोटीन (Soy Protein) – अगर आप नॉन वेज नहीं खाते, और आप हार्ट पेशेंट है, तो आपके लिए अच्छी डाइट का चुनाव करना और मुश्किल हो जाता है| सोया प्रोटीन हार्ट पेशेंट के लिए बहुत फायदेमंद है| सोया मिल्क से बनी दही और सोया से बने अन्य पदार्थो का सेवन करे| सोया युक्त दही और अन्य पदार्थ आसानी से मार्किट में मिल जाते है|

रेड वाइन (Red Wine) – रेड वाइन का अगर संतुलित मात्रा में सेवन किया जाये, तो यह हार्ट अटैक और हार्ट प्रॉब्लम को दूर करने में सहायक सिद्ध होती हैरेड वाइन में एंटी ऑक्‍सीडेंट मौजूद होते है, हार्ट पेशेंट के लिए उपयोगी होते है|

ऑलिव ऑयल (Olive oil) – ऑलिव ऑयल में मोनोसैचुरेटेड फैट मौजूद होता है, जो दिल के लिए बहुत अच्छा होता है| ऑलिव ऑयल को बेस्ट हार्ट आयल भी माना गया है| रोजाना ऑलिव ऑयल का सेवन करने से बैड कोलेस्‍ट्रॉल की मात्रा कम होने लगती है| हार्ट पेशेंट के लिए भोजन ऑलिव ऑयल में तैयार करे|

सेब (Apple) – एक शोध के अनुसार जो लोग रोजाना एक सेब खाते है, वो लोग कभी बीमारी नहीं पड़ते और उन लोगो को कभी डॉक्टर के पास जाने की जरुरत नहीं पड़ती| हार्ट पेशेंट के लिए भी सेब बहुत लाभकारी है| सेब में मौजूद पेक्टिन नामक तत्व धमनियों की कार्यक्षमता को बढ़ाता है और कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करने में मदद करता है| इसके अलावा सेब में अनेक प्रकार के खनिज तत्व पाये जाते है, जो शरीर के लिए उपयोगी होते है|

नट्स (Nuts) – अखरोट और बादाम जैसे नट्स में विटामिन ई भरपूर मात्रा में होता है, इसीलिए इनका सेवन हार्ट के लिए अच्छा माना जाता है| इसके साथ ही इन नट्स में ओमेगा3 फैटी एसिड मौजूद होता है, जो हार्ट के लिए उपयोगी होता है| अखरोट और बादाम एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी सहायक है|

विटामिन सी (Vitamin C) – अगर आप एक स्वस्थ दिल चाहते है या आप हार्ट पेशेंट है, तो विटामिन सी युक्त फलो का सेवन करे| विटामिन सी के एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों के कारण यह बात सामने आ चुकी है, कि यह दिल की बीमारियों (Heart diseases) को कम करने में सहायक है|

अनार (Pomegranate) – अनार का सेवन भी हार्ट पेशेंट के लिए फ़ायदेमदं है| अनार में पॉलीफेनॉल्स, एंटी-ऑक्सीडेंट और अनेक प्रकार के खनिज तत्व पाये जाते है, जो हमारे शरीर के लिए उपयोगी होते है| अनार का जूस बनाकर या इसके दाने ऐसे ही खा सकते है| अनार शरीर में खून की कमी को भी दूर करता है|

हल्दी (Turmeric) – हल्दी हार्ट पेशेंट के लिए बहुत उपयोगी होती है| हल्दी में अनेक प्रकार के औषधीय गुण होते है, इसीलिए हल्दी का इस्तेमाल वर्षो से लोग अनेक प्रकार की बीमारियों के उपचार में करते चले आ रहे है| हल्दी में करक्यूमिन नामक तत्व पाया जाता है, जो दिल की कार्यक्षमता को बढ़ाता है और रक्त वाहिकाओं में मौजूद फैटी एसिड को कम करता है| रोजाना रात को सोने से पहले एक गिलास हल्दी वाला दूध पियें|

लहसुन (Garlic) – लहसुन ना केवल खाने का स्वाद बढ़ाने के काम आता है, बल्कि ये अनेक प्रकार की बीमारियों के खतरे को कम करने और अनेक रोगो के इलाज करने में सहायक है| लहसुन में मौजूद गुण इतने है, कि इनकी गणना करना भी मुश्किल है| लहसुन में एंटीबायोटिक और एंटीओक्सिडेंट गुण पाये जाते है, जिसके कारण लहसुन कोलेस्ट्रोल और ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक है| इसमें मौजूद एलीसिन कोलेस्ट्रोल के स्तर को कण्ट्रोल करने में सहायक है| वर्षो से लहसुन के तेल का इस्तेमाल चर्म रोगों के इलाज में किया जा रहा है|

हार्ट पेशेंट डाइट के साथ निम्नलिखित बातो पर ध्यान दे –

1. तली भुनी और अधिक मिर्च मशाले वाली चीजों का सेवन कम करे|

2. हार्ट पेशेंट को नमक बहुत कम मात्रा में खाना चाहिए|

3. लहसुन और आंवले को अपनी दैनिक डाइट का हिस्सा बना ले|

4. ताजे फलो और पत्तेदार सब्जियों का सेवन करे|

5. बीड़ी, सिगरेट, पान मशाला, और शराब जैसी किसी भी नशीली चीज का सेवन ना करे|

6. मक्खन और घी का सेवन बहुत कम मात्रा में करे|

7. सुबह टहलने जाये और हल्के व्यायाम करे|

8. हार्ट पेशेंट रोजाना सेब का मुरब्बा खाये|

9. तनाव में ना रहे और किसी भी बात को जरूरत से अधिक ना सोचे|

इस पोस्ट में हमने आपको हार्ट पेशेंट डाइट चार्ट के बारे में बताया| ये डाइट चार्ट हार्ट पेशेंट के लिए और उन लोगो के लिए जो आने समय में हार्ट पेशेंट नहीं बनना चाहते, उनके लिए बहुत उपयोगी है| अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आयी, तो हमें कमेंट के माध्यम से इसके बारे में बताये| अगर आप किसी अन्य विषय पर जानकारी चाहते है, तो उसके बारे में भी हमें कमेंट के माध्यम से बताये|

ये भी पढ़े –

माइग्रेन के लक्षण, कारण, परीक्षण, परहेज
माइग्रेन के लिए बाबा रामदेव के योग
दौड़ने के फायदे
तेज दौड़ने के टिप्स
पेट कम करने की कसरत
मोटापा कम करने के उपाय
कमर और पेट कम करने के घरेलू उपाय
मोटा होने की दवा
वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट

Disclaimer:- All content is good for health but you should take advice from Doctor before using them. We are not responsible for any harm.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + fifteen =