अलसी के फायदे जो सेहत के लिए रामबाण हैं

अलसी के बीजो को पुराने ज़माने से लोग खाते चले आ रहे है| अगर देखा जाये तो अलसी में स्वस्थ शरीर के लिए जरुरी अधिकतर पोषक तत्व पाए जाते है| कुछ लोग आज भी अलसी के गुणों से अनजान है, जिसके कारण वे अलसी का सेवन नहीं करते| अलसी का इस्तेमाल अनेक प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजनों को बनाने में किया जाता है| अलसी की खुशबु और स्वाद अखरोड की तरह होता है| (ये भी पढ़े – अलसी का सेवन कैसे करे )

Alsi Ke Fayde

अलसी के बीजो में लिगनन, म्यूसिलेज और ओमेगा-3 फैटी एसिड सबसे अधिक मात्रा में पाया जाता है| अलसी के बीजो में घुलनशील और अघुलनशील दोनों प्रकार के फाइबर पाए जाते है| इसके साथ ही अलसी के बीजो में प्रोटीन, तांबा, मैग्नीशियम, जिंक और फास्फोरस जैसे अनेक प्रकार के पोषक तत्व पाये जाते है| जिन लोगो को गेहूँ से एलेर्जी है, उनके लिए अलसी का सेवन बहुत फायदेमंद है, क्योंकि अलसी के बीजो में लस नहीं होता|

जो लोग खुद को सेहतमंद रखना चाहते है, उन्हें अपने भोजन में रोजाना दो चम्मच अलसी के बीजो को अपने भोजन में लेना चाहिए| जो लोग वजन घटाना चाहते है, हार्ट की प्रॉब्लम से परेशान है, या फिर अपने बढ़े कोलेस्ट्रॉल को कम करना चाहते है, उनके लिए अलसी का सेवन एक अच्छा विकल्प है| अलसी के बीज बाजार में आसानी से मिल जाते है| ये बीज काले भूरे या पीले रंग के होते है| इस पोस्ट में हम आपको अलसी के फायदों के बारे में बता रहे है| यह पोस्ट उन लोगो के लिए बहुत लाभकारी है, जो अब तक अलसी के फायदों से अनजान है|

अलसी वजन घटाये (Flax Seeds for Weight Loss in Hindi)

अलसी में मौजूद लिगनन, फाइबर और ओमेगा-3 फैटी एसिड वजन घटाने में सहायक होते है| जो लोग अपना वजन घटाना चाहते है, उन्हें का सेवन जरूर करना चाहिए| जो लोग बैठकर काम करते है, और एक्सरसाइज करने के लिए भी समय नहीं निकाल पाते, उन्हें फिट रहने के लिए अलसी का सेवन करने का रूटीन बना लेना चाहिए| अलसी के बीजो को खाना खाने से एक घंटा पहले चबाकर खाये और खाने के तुरंत बाद एक गिलास पानी पी ले| आधे घंटे बाद फिर से एक गिलास पानी पी ले| ऐसा करने से आपका पेट भरा रहेगा और आप खाना कम खायेगे| साबुत अलसी की वजाय पीसी अलसी के बीजो का सेवन वजन घटाने के लिए अधिक लाभकारी है| अलसी के बीजो के पाउडर को आप दही, सुप, सलाद और दाल सब्जी में भी मिक्स कर सकते है|

कैंसर में गुणकारी अलसी का तेल (Flax Seeds for Cancer in Hindi)

अमेरिकी कैंसर अनुसंधान की रिपोर्ट के अनुसार अलसी के बीज पेट के कैंसर, स्तन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर जैसी खतरनाक बीमारियों से लड़ने में सहायक है| अलसी के बीज और अलसी के तेल दोनों में पाए जाने वाले ओमेगा 3 फैटी एसिड और अल्फा लिनोलेनिक कैंसर के विरुद्ध काम करते है| इसीलिए अगर आप कैंसर जैसे जानलेवा रोग से खुद को बचाना चाहते है, तो अलसी के बीजो का रोजाना सेवन करे| भोजन बनाने में अलसी के बीजो के तेल का इस्तेमाल करे|

रजोनिवृति में अलसी के फायदे (Flax Seeds for Menopause in Hindi)

रजोनिवृति एक ऐसी समस्या है, जो औरतो को सबसे ज्यादा परेशान करती है| रजोनिवृति में औरतो को पीरियड्स होने बंद हो जाते है| एक शोध के अनुसार रोजाना एक चम्मच अलसी के बीजो के पाउडर का दिन में दो से तीन बार सेवन करने से रजोनिवृति की समस्या काफी हद तक कम हो जाती है| अलसी के बीज मासिक धर्म को नियमित बनाये रखने और प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में भी सहायक है|

अलसी पाचन शक्ति बढ़ाये (Flax Seeds for Digestion in Hindi)

फाइबर से युक्त अलसी के बीज पाचन शक्ति को बढ़ाने का काम करते है| इसके साथ ही अलसी के बीजो के सेवन से जठरांत्र स्वस्थ रहता है| अगर आपकी पाचन शक्ति कमजोर है और आपको कब्ज की शिकायत रहती है, तो अलसी का सेवन करने से आपको लाभ होगा| अलसी के बीजो के साथ ही अलसी का तेज भी प्राकर्तिक रेचक होता है| अलसी फाइबर युक्त होता है, इसलिए इसके अधिक सेवन से हानि भी हो सकती है| अलसी से होने वाली हानि से बचने के लिए अलसी का उचित मात्रा में सेवन करे, इसके साथ ही अलसी के सेवन के साथ साथ भरपूर मात्रा में पानी पियें|

मधुमेह में लाभकारी अलसी के बीज (Flax Seeds for Diabetes in Hindi)

टाइप 2 मधुमेह के रोगी अगर अलसी के बीजो का सेवन करे, तो वे अपने रक्त शकरा के स्तर में काफी सुधार कर सकते है| एक रिसर्च के अनुसार जो लोग 3 महीनो तक अलसी के बीजो से बने प्रोडक्ट का सेवन करते है, उनके रक्त शकरा में सकारात्मक बदलाब आता है| अलसी के बीजो में लिग्निन पाया जाता है| लिग्निन सेल्यूलोस का ही रूप है| यह ब्लड शुगर को कम करने का काम करता है| अगर आप मधुमेह की दवाइयां खा रहे है, तो अलसी का सेवन किसी अच्छे डॉक्टर से परामर्श के बाद ही करे|

ये भी पढ़े – शहद नींबू पानी पीने के फायदे
ये भी पढ़े – नारियल पानी के फायदे

अलसी हृदय रोग में लाभकारी (Flax Seeds for Heart in Hindi)

हमारे हृदय को स्वस्थ रखने के लिए अनेक प्रकार के पोषक तत्वों की जरूरत होती है| ये सभी पोषक तत्व अलसी के बीजो में पाए जाते है| अलसी में मौजूद तत्व अनेक प्रकार के हृदय रोगो से बचाव करते है| अलसी में ओमेगा 3 फैटी एसिड के साथ साथ पॉलीअनसेचुरेटेड और मोनोअनसेचुरेटेड दोनों प्रकार की वसा पायी जाती है, जो हृदय को सेहतमंद रखने के लिए जरुरी होती है|

अलसी के सेवन से हृदय से जुडी बीमारियां और स्ट्रोक होने का खतरा कम हो जाता है| अगर आपकी धमनियाँ संकीय नहीं है और उनमे सूजन है, तो अलसी के सेवन से धमनियों की सूजन और असक्रियता दोनों खत्म हो जाती है| अगर आप भी अपने दिल को स्वस्थ रखना चाहते है, तो अलसी के बीजो या पीसी अलसी का सेवन रोजाना शुरू करे|

अलसी कोलेस्ट्रॉल को कम करे (Flax Seeds for Lowering Cholesterol in Hindi)

हमारे शरीर में कुछ मात्रा में खराब कोलेस्ट्रॉल भी पाया जाता है, यह कोलेस्ट्रॉल हमारी शरीर के लिए हानिकारक होता है| अलसी के बीजो का रोजाना सेवन शरीर में मौजूद खराब कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालने का काम करता है| 2010 की पोषण अनुसंधान की रिपोर्ट के अनुसार रोजाना अलसी का सेवन करने से ब्लड में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है| अलसी के बीजो में मौजूद घुलनशील फाइबर शरीर में कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को कम करता है|

अलसी का तेल बालो को लम्बा बनाये (Flax Seeds for Hair Growth in Hindi)

बालो की लम्बाई नारी की सुंदरता में चार चाँद लगा देती है, लेकिन आजकल की खराब जीवन शैली और खान पान के चलते, बालो के झड़ने टूटने और सफ़ेद होने की समस्याएं सामान्य हो गयी है| बालो को लम्बा, घना और मजबूत बनाने के लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड की जरूरत होती है, जो अलसी के बीजो में अधिक मात्रा में पाया जाता है| बालो को पोषण देने के लिए जरुरी विटामिन ई भी अलसी के बीजो में पर्यात मात्रा में पाया जाता है| बालो को मजबूत और लम्बे बनाने के लिए अलसी के तेल और बीजो का सेवन करना शुरू करे|

अलसी से होने वाले नुकसान (Flax Seeds Side Effects in Hindi)

1. जो औरते बच्चे को दूध पिलाती है, या फिर बच्चे को जन्म देने वाली है, ऐसी औरते अलसी का सेवन करने से बचे|

2. अलसी के बीजो का सेवन करने वाले लोगो को पानी अधिक मात्रा में पीना चाहिए| अलसी के सेवन के दौरान जो लोग पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीते, उन्हे इसके सेवन से स्वास्थ्य हानि होने लगती है|

3. अलसी रक्त को पतला करने का काम करती है, इसीलिए जो लोग पहले से रक्त को पतला करने की दवाई खा रहे है, वो अलसी का सेवन बिना डॉक्टर से परामर्श लिए ना करे|

4. मधुमेह के रोगी अगर दवाइयों के साथ साथ अलसी के बीजो का सेवन करते है, तो उन्हें समय समय पर अपनी रक्त संकरा की जाँच कराते रहना चाहिए|

5. अलसी के फायदों को देखकर अलसी का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए| अधिक मात्रा में अलसी का सेवन करने से आंतो में रुकावट होने लगती है|

इस पोस्ट में आपने अलसी के फायदों के बारे में जाना, आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट करके बताये| अगर आप अलसी के किसी अन्य फायदे के बारे में जानते है, तो कमेंट के माध्यम से हमें उस फायदे के बारे में जानकारी दे|

ये भी पढ़े – गर्भावस्था में देखभाल
ये भी पढ़े – प्रेगनेंसी के मुख्य लक्षण

Disclaimer:- All content is good for health but you should take advice from Doctor before using them. We are not responsible for any harm.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 3 =