What is a Balanced Diet Chart in Hindi संतुलित आहार चार्ट

संतुलित आहार चार्ट : शरीर को सभी पोषक तत्व शरीर की जरूरत के अनुसार मिले, इसके लिए संतुलित आहार अर्थात बैलेंस्ड डाइट लेना बहुत जरुरी है| संतुलित आहार अर्थात बैलेंस्ड डाइट में फाइबर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, कैल्शियम आदि सभी पोषक तत्व पाए जाते है| संतुलित पोषण पाने के लिए संतुलित डाइट लेना बहुत जरुरी है| संतुलित पोषण पाने के लिए आपको अपना आहार चार्ट बैलेंस करना होगा|

Balanced Diet Chart in Hindi

बैलेंस्ड डाइट आपके शरीर का विकास तेजी से करती है, जिससे शरीर सही तरीके से काम करता है| आइये बैलेंस्ड डाइट क्या है और इसे लेने से शरीर को कितना फायदा होता है, इसके बारे में विस्तार से जाने|

संतुलित आहार के लाभ (Benefits of Balanced Diet in Hindi)

शरीर का सही विकास करने के लिए बैलेंस डाइट लेना बहुत जरुरी है| संतुलित आहार लेने से शरीर का सही विकास होता है, जिससे शरीर अच्छे से काम करता है| संतुलित आहार में खनिज और विटामिन उपयुक्त मात्रा में पाए जाते है, जो शरीर के अंगो, ऊतकों और कोशिकाओं के विकास में सहायक है| संतुलित आहार लेने से शरीर में ऊर्जा बनी रहती है, जिससे नींद अच्छी आती है| संतुलित आहार से शरीर में वसा कम होती है, जिसके कारण शरीर में चर्बी नहीं जमती| आप पढ़े रहे है,डाइट प्लान हिंदी में|

संतुलित आहार क्या है (What is Balanced Diet Chart in Hindi)

संतुलित आहार चार्ट सभी प्रकार के पोषक तत्वों की एक सम्मिलित आहार योजना होती है| इस आहार चार्ट में शरीर के लिए जरुरी सभी पोषक तत्व संतुलित मात्रा में पाए जाते है, इसी लिए इस चार्ट का नाम संतुलित आहार चार्ट (Balanced Diet Chart) रखा गया है| संतुलित आहार चार्ट शरीर के सही विकास में हमारी मदद करता है|

भोजन पिरामिड संतुलित आहार चार्ट का सूचक है| इसमें सभी आहार का सन्तुलन सही मात्रा में होता है| भोजन पिरामिड सन्तुलिन डाइट को निम्न चरणों में दर्शाता है|

शीर्ष चरण (Top Level) – शीर्ष चरण में साबुत अनाज को शामिल किया जाता है| साबुत आहार में चना, गेंहू, जौ और बाजरा आदि शामिल होते है| इन चीजों को आपको अपने आहार में जरूर शामिल करना चाहिए| ये आपके शरीर के सही विकास में सहायक है|

दूसरा चरण (Second Level) – दूसरे चरण में सब्जियां और फल शामिल होते है| फलो और सब्जियों में सभी प्रकार के खनिज और पोषक तत्व पाए जाते है, जो शरीर के लिए बहुत जरुरी होते है| अपने आहार में रोजाना ताजे फल और हरी पत्तेदार सब्जियां शामिल करे|

तीसरा चरण (Third Level) – तीसरे चरण में प्रोटीन युक्त चीजों को शामिल किया जाता है| प्रोटीन हमारे शरीर के लिए बहुत जरुरी है| प्रोटीन के मुख्य स्त्रोत दूध, दही, घी, अंडा, चिकन, दाल, सोयाबीन, मेवा, राजमा आदि है|

निम्न चरण (Low Level) – इस चरण में ऐसी चीजे आती है, जो आहार में शामिल करनी चाहिए, लेकिन कम मात्रा में| इस चरण में वसा और तेल के साथ नमक और चीनी को शामिल किया गया है| इन चीजों का सेवन जरुरी है, लेकिन इनके अधिक सेवन से शरीर को हानि होती है| इसीलिए इन चीजों का सेवन कम मात्रा में करना चाहिए|

संतुलित आहार क्यों जरूरी है (Balanced Diet Importance in Hindi)

शरीर के सही विकास के लिए संतुलित आहार लेना बहुत जरुरी है| विटामिन और खनिज तत्व शरीर के लिए बहुत जरुरी है, लेकिन इनका शरीर में संतुलन बिगड़ने पर अनेक प्रकार की परेशानियां होने लगती है| ऐसे में इनका संतुलन बनाये रखने के लिए डाइट चार्ट को बैलेंस्ड करना बहुत जरुरी है| संतुलित आहार में विटामिन, खनिज, प्रोटीन आदि सभी प्रकार के पोषक तत्व शामिल होते है|

शरीर के लिए हर प्रकार के पोषक तत्व का अपना अलग महत्त्व होता है, इसीलिए आहार में सभी चीजों का सेवन करना बहुत जरुरी होता है| अधिकतर लोग करेला, आवंला, लौकी, पालक और मेथी जैसी हरी सब्जियां नहीं खाते, जबकि सबसे ज्यादा पोषक तत्व इन्ही चीजों में होते है| संतुलित आहार में वो सभी चीजे सही तरीके कर दी जाती है, जो आपके लिए जरुरी है| संतुलित आहार लेकर ही आप स्वस्थ शरीर पा सकते है|

संतुलित आहार में क्या क्या होना चाहिए (Balanced Diet Components in Hindi)

सब्जियां (Vegetables) – सब्जियों में विटामिन और खनिज भरपूर मात्रा में होते है| सब्जियों के माध्यम से आसानी से शरीर को खनिज और विटामिन जैसे पोषक तत्व मिल जाते है| अपने आहार में रोजाना ताज़ी सब्जियां शामिल करे| अधिकतर लोग हरी सब्जियां खाना पसंद नहीं करते| हरी सब्जियों में सबसे ज्यादा खनिज तत्व और विटामिन पाए जाते है, इसीलिए हरी सब्जियां जरूर खाये|

अनाज (Grain) – साबुत अनाज शरीर के लिए बहुत जरुरी है| साबुत अनाज में बाजरा, जौ, गेहूं और दलिया जैसी चीजों को अधिक शामिल करे| अगर आपको चावल और ब्रेड खाने का शौक है, तो ब्राउन ब्रेड और ब्राउन चावल खाये| इसके साथ ही मूँग और मसूर जैसी साबुत दाल अपने रोजाना के आहार में शामिल करना ना भूले|

फल (Fruit) – फलो में फाइबर सहित अन्य सभी प्रकार के पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते है| फल बहुत जल्दी पच जाते है और ये आसानी से बाजार में मिल भी जाते है| रोजाना अपने आहार में ताजे फलो को शामिल करे| मौसम के अनुसार फलो का सेवन करे| इससे आपको अधिक फायदा होगा|

प्रोटीन (Protein) – दिमाग को तेज करने और मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए प्रोटीन का उचित मात्रा में सेवन जरुरी है| बीन्स, मीट दूध और दूध से बनी चीजों में प्रोटीन की अधिक मात्रा पायी जाती है इसीलिए अपने आहार में ये चीजे शामिल जरूर करे| अच्छी सेहत के लिए लौ फैट चिकन जैसे मछली, अंडे आदि का सेवन करे|

डेयरी उत्पाद (Dairy Product) – डेयरी उत्पाद में विटामिन डी, वसा और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व शामिल होते है| वसा डेयरी उत्पाद में आती है, लेकिन इसका सेवन कम मात्रा में करना चाहिए| कैल्शियम की पूर्ति के लिए रोजाना लो फैट मिल्क पीना चाहिए|

वसा और चीनी (Fat and Sugar) – शरीर को किसी भी कार्य को करने के लिए ऊर्जा की जरूरत होती है| चीजी और वसा दोनों से ही शरीर को ऊर्जा मिलती है, इसीलिए इनका सेवन जरुरी है| इन चीजों के अधिक सेवन से शरीर में इतनी अधिक ऊर्चा संचरित हो जाती है, कि हम उस ऊर्जा का इस्तेमाल नहीं कर पाते| इसके कारण शरीर में वसा इक्कठा होने लगती है| इसके कारण ही मोटापा होता है| मोटापे के कारण हार्ट अटैक, टाइप 2 डायबिटीज और हार्ट से जुडी बीमारियां होने लगती है, इसीलिए इन चीजों का संतुलित मात्रा में सेवन करना बहुत जरुरी है|

औरतो के लिए संतुलित आहार (Balanced Diet for Women in Hindi)

नाश्ता (Breakfast) – अधिकतर महिलाएं अपने काम में इतना व्यस्त होती है, कि वे सुबह का नाश्ता करना ही भूल जाती है, लेकिन क्या आप जानते है, नाश्ता पुरे दिन का सबसे जरुरी आहार माना जाता है| ऐसे में इस आहार को छोड़ना ठीक नहीं है| सुबह के नाश्ते में प्रोटीन युक्त चीजे जैसे दूध, अंडा, दलिया, अंकुरित दाल ले| प्रोटीन युक्त आहार से से शरीर को पुरे दिन काम करने की एनर्जी मिलती है|

दोपहर का भोजन (Lunch) – दोपहर के भोजन में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट युक्त आहार चुने| इनसे शरीर को जरुरी ऊर्जा मिलती है| दोपहर के भोजन में दाल के साथ ब्राउन राइस, चपाती और सलाद खाये| नॉनवेज पसंद करने वाले लोग दोपहर के भोजन में चिकन को भी शामिल कर सकते है| सब्जियों को मिलाकर सैनविच भी बनाकर खा सकते है|

शाम का खाना (Dinner) – रात का भोजन कार्ब्स और प्रोटीन को मिलाकर करना चलिए| रात को भोजन में आप ऑयली मछली खा सकते है| रात को भोजन में पनीर, मछली, चिकन, सुप, सब्जी जैसी चीजों का सेवन करे| रात को चिकन सुप बनाकर पी सकते है|

पुरुषो के लिए संतुलित आहार (Balanced Diet for Man in Hindi)

नाश्ता (Breakfast) – प्रोटीन युक्त नाश्ते से अपने दिन की शुरुआत करे| जो लोग जिम जाते है, उनके लिए तो प्रोटीन युक्त आहार और भी जरुरी होता है| प्रोटीन मांसपेशियों को मजबूत बनाता है| सुबह के नास्ते में अंकुरित दाल, उपमा और दूध जैसी प्रोटीन युक्त चीजों को शामिल करे|

दोपहर का भोजन (Lunch) – दोपहर का भोजन कार्ब्स और प्रोटीन से भरपूर होना चाहिए| दोपहर के भोजन में ब्राउन राइज के साथ चिकन और पनीर का सेवन करे| इसके साथ ही दाल और सब्जियों को भी दोपहर में अपने आहार में शामिल करे|

शाम का खाना (Dinner) – रात के खाने में वसा के साथ कार्बोहाइड्रेट को मिलाकर खाये| कार्बोहाइड्रेट और वसा से शरीर का रात भर अच्छे से विकास होता| कार्बोहाइड्रेट और वसा के लिए चिकन सुप, दाल चावल और रोटी को शामिल करे|

इस पोस्ट में आपने “Best Chart in Hindi” के बारे में जाना| संतुलित आहार लेने से शरीर का सही विकास होता है, इसीलिए केवल संतुलित आहार ही ले| ऐसी अन्य पोस्ट पढ़ने के लिए रोजाना हमारी वेबसाइट को पढ़े| आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी, हमें पोस्ट के नीचे बने कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बताये|

Disclaimer:- All content is good for health but you should take advice from Doctor before using them. We are not responsible for any harm.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − 11 =